Hawaayein (Arijit Singh) | Song Review

इस पोस्ट पर आप Hawayein Song lyrics and review पढ़ेंगे। Jab Harry Met Sejal film का एक बहुत ही खूबसूरत गाना है। इस फिल्म के अभिनेता Bollywood नगरी के बादशाह कहे जाने वाले Shah Rukh Khan है। और बेहद ही खबसूरत अभिनेत्री Anushka Sharma ने काम किया है। इस गाने को गायक Arijit Singh ने गाया है। और इसके बोल Irshad Kamil के हैं। और संगीत दिया है Pritam ने। इस फिल्म को निर्देशित किया है बेहद ही प्रतिभाशाली निर्देशक Imtiaz Ali ने। Irshad Kamil ने lyrics लिखा है। Hawayein song lyrics से पहले पढ़ते हैं। Hawayein Hawayein song review.
Jab-Harry-Met-Sejal-Hawayein-Song-Lyrics

Review:

Irshad Kamil के बोल, Arijt Singh की आवाज और Pritam जी का संगीत मिल के इस गाने को जादुई बना डाला है। ये गाना सीधे दिल तक पहुंचाती है। स्वाभाविक सी बात है। ज्यादातर लोगों को यह बात पता होती है। कि उनका प्यार में कभी नहीं मिलेगा। लेकिन फिर भी वह अपने प्यार से दूर नहीं जा पाते। और यही इस गाने का मतलब है कि पता नहीं हमें हमारी जिंदगी कहां ले जाए। le jaye jane kahan hawayein hawayein। गाने के फिल्मांकन में आपको शाहरुख खान और अनुष्का शर्मा का साथ किया गया सफर देखने को मिलेगा। जिसमें शाहरुख खान का अनुष्का शर्मा के प्रति बढ़ रहे प्यार को दर्शाया गया है। इस गाने को फ़िल्म में आधे-आधे भाग में बांटकर दिखाया गया है। movie के अंदर एक बार में आपको पूरा गाना सुनने को नहीं मिलेगा। अगर आप इस गाने को पूरा सुनना चाहते हैं? तो आपको इसका audio download करना होगा। तो ही आप इस गाने को शुरू से लेकर अंत तक पूरा सुन पाएंगे। "तेरी है मेरी सारी, वफाएं वफाएं" इस गाने की सबसे खूबसूरत लाइन है। आज के जमाने में ऐसे शब्दों का इस्तेमाल कम ही किया जाता है। इसलिए हमें यह लाइन बहुत पसंद आई। तो चलिए अब पढ़ते है Jab Harry Met Sejal Hawayein Song Lyrics.

Details:

  • Song: Hawayein
  • Singer: Arijit Singh, Pritam
  • Lyrics: Irshad Kamil
  • Music: Pritam 
  • Film Directed by: Imtiaz Ali
  • Music Label: Sony Music

Lyrics:

तुझ को मैं रख लूं वहाँ
जहां पे कहीं,

है मेरा यकीन
मैं जो तेरा ना हुआ
किसी का नहीं,
किसी का नहीं
ले जाए जाने कहाँ
हवाएं, हवाएं

ले जाये तुझे कहाँ
हवाएं, हवाएं
बेगानी है ये बाघी
हवाएं, हवाएं
ले जाए मुझे कहाँ
हवाएं, हवाएं
ले जाए जाने कहाँ
ना मुझको खबर ना तुझको पता
ओ... ओ... ओ... ओ...

बनाती है जो तू
वो यादें जाने संग मेरे कब तक चले
इन्ही में तो मेरी
सुबह भी ढले, शामें ढले, मौसम ढले
ख्यालों का शहर
तू जाने तेरे होने से ही आबाद है
हवाएं हक में
वहीं हैं आते जाते जो तेरा नाम लें
देती हैं जो सदाएं
हवाएं, हवाएं
ना जाने क्या बताएं
हवाएं, हवाएं
ले जाये तुझे कहाँ
हवाएं, हवाएं
ले जाये मुझे कहाँ
हवाएं, हवाएं
ले जाए जाने कहाँ
ना मुझको खबर ना तुझको पता
ओ... ओ... ओ... ओ...

चेहरा क्यूं मिलता तेरे
यूं ख्वाबों से मेरे
ये क्या राज है ?
कल भी मेरी ना थी तू
ना होगी तू कल
मेरी आज है
तेरी है मेरी सारी, वफाएं वफाएं
मांगी है तेरे लिए, दुवाएं दुवाएं
ले जाये तुझे कहाँ
हवाएं, हवाएं
ले जाये मुझे कहाँ
हवाएं, हवाएं

[ले जाए जाने कहाँ
हवाएं, हवाएं
ले जाये तुझे कहाँ
हवाएं, हवाएं] x 2

[ले जाए जाने कहाँ
हवाएं, हवाएं
ले जाये मुझे कहाँ
हवाएं, हवाएं
] x 2
ओ... ओ... ओ... ओ...

Post a Comment

0 Comments