ओ साथी, आतिफ असलम (बागी 2)

O Saathi 2018 का सबसे Romantic और सुंदर गाना जिसको सबसे सुरीली और मधुर आवाज Atif Asalm ने गाया है। O Sathi Baaghi 2 Lyrics and Review. O Sathi Tere Bina Romantic Song of the Year 2018 का बना। Tiger Shroff और Disha Patani ने Couple का अभिनय किया।
O-Sathi-Tere-Bina-Lyrics-and-Review
ओ साथी तेरे बिना, एक सुंदर और Romantic गाना है। इस गाने को Pakistan के famous singer Atif Aslam ने गाया है। Atif Aslam का ये Song बहुत ही Famous हुआ। चूंकि इसको संगीत Arko ने दिया है। जो
bollywood में बहुत ही अच्छे संगीतकार है। ये गाना film Baghi 2 की है। जिसे Ahmed Khan जी ने direct किया है।

Review:

इस गाने की मिजाज की बात करें। तो यह एक बेहद ही खुश मिजाज romantic song है। lyrics बेहद ही अच्छे है। हर एक शब्द को सही जगह दी गयी है। एक एक लफ्ज़ के मायने हैं। जो सुनते वक़्त दिल को काफी सुकून पहुंचाते हैं। आतिफ की आवाज में यही खासियत है कि जितना उनका गाना सुरीला होता है। उतना ही उनकी feelings real होती है। गाने के चित्रांकन की बात करे। तो पुरे गाने में, hero, अपनी heroin को पटाने में लगा रहता है। जिसमे कुछ खास नहीं। गाने के बोल, गाने के चित्रांकन के साथ fit नहीं होते। इसमें आपको कोई भी dance देखने को नहीं मिलेगा। लेकिन hero, heroin के बिच कुछ खट्टे मीठे खटपट भरे seen देखने को जरूर मिलेंगे। देखने के लिहाज से हम इस गाने को उतना अच्छा नहीं मानेंगे। लेकिन सुनने के लिहाज से ये शानदार है। हर प्यार से व्यक्ति को ये o sathi song बहुत अच्छा लगेगा।

Details:

  • Song - O Sathi
  • Singer- Atif Aslam
  • Music/Lyrics- Arko
  • Movie - Baaghi 2
  • Cast - Tiger Shroff, Disha Patani
  • Music Label - T Series

Lyrics:

हम्म.. हम्म..

ओ.. ओ..
अल्लाह मुझे दर्द के
काबिल बना दिया
तूफ़ान को ही कश्ती का
साहिल बना दिया
बेचैनियाँ समेट के
सारे जहांन की
जब कुछ ना बन सका
तो मेरा दिल बना दिया

ओ साथी.. तेरे बिना..
राही को राह दिखा ना..
ओ साथी..
तेरे बिना.. हां..
साहिल धुंआ धुंआ..

हम्म.. हम्म..

आखें मूंदे तो जाने किसे ढूँढे
की सोया जाए ना
की सोया जाए ना

किसे ढूंढें
ये ख्वाहिशों की बूँदें
की सोया जाए ना
की सोया जाए ना
मानो निंदिया पिरोया जाए ना
मानो निंदिया पिरोया जाए ना..

अल्लाह मुझे दर्द के
काबिल बना दिया
तूफ़ान को ही कश्ती का
साहिल बना दिया
बेचैनियाँ समेट के
सारे जहांन की
जब कुछ ना बन सका
तो मेरा दिल बना दिया

ओ साथी.. तेरे बिना..
राही को राह दिखा ना..
ओ साथी..
तेरे बिना.. हां..
साहिल धुंआ धुंआ..

Post a Comment

0 Comments