देखते देखते Atif Aslam Dekhte Dekhte Hindi Lyrics With Review

देखते देखते Atif Aslam Dekhte Dekhte Hindi Lyrics With Review

आज हम आपको Dekhte Dekhte Lyrics And Review Hindi में देंगे। दरअसल ये एक क़व्वाली song "Sochta Hoon Ke Woh Kitne Masoom The" के नाम से जाना जाता है। जो Nusrat Fateh Ali Khan के द्वारा गाया गया था। जिसका नया Bollywood संस्करण Atif Aslam ने गाया और Music Rochak Kohli ने दिया है। जिसे Shahid Kapoor और Shraddha Kapoor पर चित्रित किया गया है। जो Batti Gul Meter Chalu नामक film का में लिया गया है।
dekhte-dekhte-lyrics-in-hindi-atif-aslam-batti-gul-meter-chalu

Dekhte Dekhte Atif Aslam Review

जैसा कि ऊपर हमने बताया है। बहुत ही प्रचलित कव्वाली "Sochta Hoon Ke Woh Kitne Masoom The" का Bollywood version है। और यही कारण है कि इस गाने के बोल बेहद ही खूबसूरत है। पुराने जमाने के गानों में एक मतलब होता था। एक मिठास होती थी। पुराना गाना शानदार था। तभी तो इसका नया संस्करण बनाया गया। इसलिए इस गाने के बारे में कुछ भी कहना गलत होगा। लेकिन हां, Atif Aslam की तारीफ करनी होगी। उन्होंने काफी खूबसूरती से इस गाने को निभाया है। गाने के फिल्मांकन में बस यादों के बादल दिखाई दे रहे हैं। जो कि कहानी के मांग के हिसाब से सही है। ये गाना best Atif Aslam songs में गिना जाएगा। तो अब पढ़ते हैं Dekhte Dekhte Song lyrics in Hindi from Batti Gul Meter Chalu.

Song Details

  • Song - Dekhte Dekhte
  • Singer - Atif Aslam
  • Music Recreated by - Rochak Kohli
  • New Lyrics - Manoj Muntashir
  • Music Label - T-Series
  • Staring - Shahid Kapoor, Shraddha Kapoor
  • Movie - Batti Gul Miter Chalu

Atif Dekhte Dekhte Lyrics In Hindi

रज्ज के रुलाया
रज्ज के हंसाया
मैंने दिल खो के इश्क कमाया
माँगा जो उसने एक सितारा
हमने ज़मीन पे चाँद बुलाया

जो आँखों से.. हाय
वो जो आँखों से इक पल ना ओझल हुवे (2×)
लापता हो गए देखते देखते

सोचता हूँ..
सोचता हूँ के वो कितने मासूम थे (2×)
क्या से क्या हो गए देखते देखते

सोचता हूँ के वो कितने मासूम थे
क्या से क्या हो गए देखते देखते
सोचता हूँ के वो कितने मासूम थे (2×)
क्या से क्या हो गए देखते देखते

वो जो कहते थे बिछड़ेंगे ना हम कभी (2×)
अलविदा हो गए देखते देखते
सोचता हूँ..

एक मैं एक वो, और शामें कई
चाँद रोशन थे तब आसमां में कई
एक मैं एक वो, और शामें कई
चाँद रोशन थे तब आसमां में कई

यारियों का वो दरिया उतर भी गया
और हाथों में बस रेत ही रह गयी

कोई पूछे के.. हाय
कोई पूछे के हमसे खता क्या हुई
क्यूँ खफ़ा हो गए देखते देखते
आते जाते थे जो सांस बन के कभी (2×)
वो हवा हो गए देखते देखते
वो हवा हो गए.. हाय..

ओह हो हो..
ओह हो हो..

वो हवा हो गए देखते देखते
अलविदा हो गए देखते देखते
लापता हो गए देखते देखते
क्या से क्या हो गए देखते देखते

जीने मरने की हम थे वजह और हम ही (2×)
बेवजह हो गए देखते देखते..

सोचता हूँ..
सोचता हूँ के वो कितने मासूम थे (2×)

क्या से क्या हो गए देखते देखते (2×)
क्या से क्या हो गए.. ओह हो हो..

No comments