maiya-taine-ka-thani-man-me-lyrics-in-hindi-ramanand-sagar-ramayan

रामानंद सागर के serial रामायण का ओ मइया तैने का ठानी मन में गाने को लिखा, गाया और संगीत देने का काम तीनों ही रविन्द्र जैन ने किया है और इस पोस्ट में आप O Maiya Taine Ka Thani Man Me Lyrics और Review पढ़ने वाले हैं। Ramanand Sagar का Ramayan पहली बार 1987 में DD National TV पर प्रसारित किया गया था।

Review

O Maiya Taine Ka Thani Man Me song रामायण धारावाहिक में तब फिल्माया गया है जब राम-सीता को वन भेजने के बाद कैकेयी अपने नाराज़ बेटे भरत से मिलने गयी थी और तब भरत जी ने उन्हें खूब खरी खोटी सुनाई थी तभी तो गाने का नाम ओ मइया तैने का ठानी मन में रखा गया है। स्वाभाविक रूप से ये गाना भरत के मन में कैकेयी माता के प्रति उनके भाव है जो बिल्कुल सटीक है। इंसान अपना पद अपने बुरे कर्मों के वजह से ही गंवाता है।

Details

  • Song Title: ओ मईया तैने का ठानी मन में
  • Singers/Lyrics/Music: रविन्द्र जैन
  • Serial: रामायण, रामानंद सागर
  • Starring: अरुण गोविल, दीपिका चिखालिया, सुनील लहरी
  • Label: DD National TV
$ads={1}

Lyrics

ओ मईया तैने का ठानी मन में
राम-सिया भेज दयेरी वन में
राम-सिया भेज दयेरी वन में

हाय री तैने का ठानी मन में
राम-सिया भेज दयेरी वन में
राम-सिया भेज दयेरी वन में

यधपि भरत तेरो ही जायो
यधपि भरत

यधपि भरत तेरो ही जायो
तेरी करनी देख लजायो
अपनों पद तैने आप गँवायो
भरत की तजरन में
राम-सिया भेज दयेरी वन में

हठीली तैने का ठानी मन में
राम-सिया भेज दयेरी वन में
राम-सिया भेज दयेरी वन में

महल छोड़ वहाँ नहीं रे मड़ैया
महल छोड़

महल छोड़ वहाँ नहीं रे मड़ैया
सिया सुकुमारी,संग दोउ भईया,
काहू वृक्ष तर भीजत होंगे
तीरो मेहन में,
राम-सिया भेज दयेरी वन में
$ads={2}
दीवानी तैने का ठानी मन में
राम-सिया भेज दयेरी वन में
राम-सिया भेज दयेरी वन में

कौशल्या की छिन गयी वाणी
कौशल्या की

कौशल्या की छिन गयी वाणी
रोय ना सकी उर्मिल दीवानी
कैकेयी तू बस एक ही रानी
रह गयी महलन में
राम-सिया भेज दयेरी वन में

हो दीवानी तैने का ठानी मन में
राम-सिया भेज दयेरी वन में
राम-सिया भेज दयेरी वन में
राम-सिया भेज दयेरी वन में

Video

Ramanand Sagar Ramayan Songs

Post a Comment

Previous Post Next Post