Kaahe-Jaage-Mohan-Lyrics-in-Hindi-Review

Kaahe Jaage Mohan Lyrics and Review - काहे जागे मोहन गाने के रूप में हमारे बीच एक लंबे अरसे बाद शास्त्रीय संगीत आया है। इस गाने की खास बात ये है इसे राग भैरवी में गायिका सना गार्डे ने गाया है जिन्होंने मात्र 4 साल की उम्र में शास्त्रीय संगीत सीखना शुरू कर दिया था। इस गाने में अभिनेत्री अश्लेषा सावंत मीरा का किरदार निभा रही हैं जो क्योंकि सास भी कभी बहू थी और कुमकुम भाग्य जैसे धारावाहिकों में अभिनय कर चुकी है।

Kaahe Jaage Mohan song का Lyrics, गीतकार प्रखर गौतम ने लिखा है। इस खूबसूरत राग भैरवी गीत को संगीत देने का काम ध्रुव के. सिंघल ने, जो की कई सारे शॉर्ट फिल्मों में काम कर चुके हैं। काहे जागे मोहन गाने को 17 May 2022 को रिलीज किया गया था। रिलीज से पहले ही ये गान अंतरराष्ट्रीय स्तर पर कई अवार्ड जीत चुक है।

  • 12th Dada Saheb Phalke Film Festival, 2022
  • International Music Video Awards, London, 2022
  • Munich Music Video Awards, Munich, 2022
  • International Sound Video Awards, Prague, 2022 (Honorable Mention in Best Asian Video)

ये वो music awards हैं जो इस गाने ने जीते हैं। काहे जागे मोहन गाने के इसी सफलता को देखते हुए इसे यूट्यूब पर रिलीज किया गया। ये गाना क्यों इतना खास है और इसमें क्या खूबी है ये जानने के लिए पढ़े Kaahe Jaage Mohan song review.

Review

इस गाने को तो आप सुनेंगे तब आप थोड़ा confuse हो सकते हैं कि गाना संदेश क्या दे रहा है और ऐसा इसलिए है क्योंकि हम सबने इस चीज को अपने लाइफ में कभी importance ही नहीं दी, और चीज है "आराम"।

आराम आज के समय में एक ऐसी चीज है जिसे हम सब ने लगभग नजरअंदाज कर दिया है। पहले तो हम पैसे कमाने के पीछे भागते हैं और जो बचा-खुचा समय होता है, उसे हम लैपटॉप, टीवी और मोबाइल में गवां देते हैं। इस कारण हमें कई सारे स्वास्थ्य परेशानियों से और इमोशनल ट्रॉमा से गुजर रहे हैं। इसी बात को इस Kaahe Jaage Mohan गाने में बहुत ही खूबसूरत तरीके से दर्शाया गया है कि हम सब कैसे आराम को नजरअंदाज कर रहे हैं।

प्रखर गौतम ने काहे जागे मोहन गीत को बेहतरीन ढंग से लिखा है। बिना specific शब्द का इस्तेमाल किए उन्होंने अपनी बात रखी है। गाने को सुनकर लगता नहीं है कि यहां पर आपको आराम करने के महत्व के बारे समझाया जा रहा है लेकिन indirectly आपसे यही बात की जा रही है। क्योंकि यहां मोहन का नाम दिया गया है इसलिए हम लोग मोहन (श्री कृष्ण) को सोचने लगते हैं और फिल्मांकन में भी मीरा दिखाई पड़ती है तो normal इंसान भ्रमित हो जाता है।

Restless को दर्शाने के लिए "कृष्ण भक्त मीरा" के कृष्ण के प्रति जो व्याकुलता थी, उसी व्याकुलता को आज के रहन-सहन से जोड़कर इसलिए दिखाया गया है मीरा में मोहन कभी नहीं सोते इसलिए वो हमेशा व्याकुल रहती हैं। Director की तारीफ करनी होगी। उन्होंने बहुत ही unique फिल्मांकन किया है। झूले में लैपटॉप को बच्चे की तरह झुलाना, गाने सबसे खास दृश्य है।

$ads={1}

फिल्मांकन में, काम मैं ही डूबे रहना, लग्जरी के पीछे भागना और हर वक्त enjoyment के नाम पर पार्टी और खाने-पीने में मग्न रहने को दर्शाया गया है। यानी आज का मानव आराम को ना तो महत्व दिया जा रहा है और ना ही आराम किया जा रहा है।

गायिका सना गार्डे ने इस काहे जागे मोहन गाना बहुत ही अच्छा गाया है। राग भैरवी हमें एक लंबे अरसे बाद सुनने को मिला है। ध्रुव के सिंघल ने हमें एक unique music दिया है। इसे music instrument का कारण है इसके वाद्ययंत्र।

शास्त्रीय संगीत में सितार और बांसुरी के साथ-साथ guitar का इस्तेमाल किया गया है जो कि एक western music instrument है। एक western music instrument होने के बाद भी एक बार भी ऐसा नहीं लगता की इसमें guitar का भी use किया गया है। इस काम के लिए ध्रुव जी प्रसंशा के पात्र है।

अगर हम बात करे गाने के अच्छे या बुरे होने की तो हम आपको बता दें शास्त्रीय संगीत loud volume करके पार्टी करने के लिए नहीं होता, ये मन की गहराइयों तक मन को शांत करने वाला संगीत होता है। इसीलिए जो लोग loud music पसंद करते हैं, hip-hop music पसंद करते हैं, western music पसंद करते हैं, उन्हें तो कभी भी यह गाना पसंद नहीं आएगा लेकिन, जो लोग शास्त्रीय संगीत पसंद करते हैं, उनके लिए यह गाना, उनकी पसंदीदा शास्त्रीय गीतों में शुमार हो जाएगा।

Details

  • Singer: सना गार्डे
  • Lyrics: शेखर गौतम
  • Music: ध्रुव के सिंगर सिंघल
  • Actress: अश्लेषा सावंत
  • Label: Parindey Storytellers

Lyrics

काहे जागे मोहन
काहे ना तू सोए
लब तू ना खोले
चैन ना खोए
मुख से तू बोलत है
आंखों से तू रोए
काहे ना तू सोए

मोहन सांस ना आए हैं
मोहन तड़पा जाए हैं (×2)

माथे पर जो शिकन पड़े
काहे ना सहलाए हैं (×2)

$ads={2} कागज की माला क्यों पिरोए
काहे ना तू सोए

आ… आ आ… आ आ आ आ आ

मोहन दर-दर भटके जाए
मोहन बतिया में बकत बताए (×2)

श्वेत सियासी रस में बनाए
रितिया तू जागे उनको निभाए (×2)

करवट ले चादर भिगोए
काहे ना तू सोए

काहे जागे मोहन
काहे ना तू सोए
लब तू ना खोले
चैन ना खोए
मुख से तू बोलत है
आंखों से तू रोए
काहे ना तू सोए

Video

More Songs

Post a Comment

Previous Post Next Post